चुदाई

Wednesday, January 18, 2006

अंजली की चुदाई

अंजली की चुदाई
मेरे दोस्तो आज अपनी दिलोजां से प्यारी मेहबूबा अंजली शर्मा की चुदाई का किस्सा आपको यहाँ बताने जा रहा हूँ । दुनियां की सबसे
प्यारी और हसीन औरत जो कि भयंकर जिददी भी थी आखिर कैसे मुझसे चुदी , यह कहानी केवल कहानी नहीं बल्कि एक दास्तां हैं , दिलों को सुकून देने वाली एक अति मनोरम चुदाई कथा है ।
दोस्तो , किस्सा उस समय का है , जब मैं कक्षा 6 में पढ्ता था । हमारे विद्यालय में लड्कियां हमारे साथ ही पढ्ती थीं । मैंने कई लड्कियों को पटाया और चोदा किन्‍तु अंजली का किस्सा कुछ विशेष है अत: इसे लिखना मुझे अच्छा लगा सो मैं आपको यहॉं बता रहा हूँ ।
अपनी सुरारी और प्यारी अंजली के मदमाते उरोज , महकती सांसे , गमगमा कर चुदाई में दम भरती सिसकियां , गुलाबी नरम झांटे, काले नीले गुप्त वस्त्र , कली चढढी , और उसकी चूत की तीन कलियां , और उसकी उंगलियां का मेरे लण्ड पर गर्मागर्म स्पर्श मैं आज तक नहीं भूला ।
उस मदमस्त चुदाई की भूले बिसरे भी याद आ जाती है तो आज भी लण्ड सनसना जाता है । और अपनी बीवी को चोद चाद कर प्यास बुझा लेता हूँ लेकिन वह बात फिर भी नहीं आ पाती । अंजली ने मेरे लण्ड से खिलवाड् करके जितना हॉट किया था , उतना कोई दूसरी औरत आज तक नहीं कर पाई । हालांकि लगभग चार पांच सौ चुदाईयां और 250 मदमाती चूतें अब तक मैं चोद चुका हूँ । लेकिन अंजली जैसी चूत मुझे दुबारा नहीं मिली ।